तमिलनाडु , राज्य वन रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार यह वृक्ष तमिलनाडु में कृषि भूमि को बंजर बनाने और सर्वाधिक जल शोषण के लिए उत्तरदाई है। इस क्रम में 1 मार्च 2017 को मद्रास उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार को प्रोसोपिस जूलीफ्लोरा प्रजाति के वृक्ष के उन्मूलन संबंधित दिशा निर्देश जारी किए।